गरीब वर्ग का बच्चा भी पढ़ सकेगा विद्या लक्ष्मी योजना के द्वारा

विद्या लक्ष्मी योजना लोन योग्यता

  • एजुकेशन लोन के लिए आवेदन करने वाला छात्र का निवासी होना चाहिए।
  • उसे भारत या विदेश में मान्यता प्राप्त शैक्षणिक संस्थान में एडमिशन कन्फर्म होना चाहिए।
  • लोन के लिए आवेदन करते समय छात्रों की आयु 18 से 35 वर्ष के दायरे में आनी चाहिए।
  • लास्ट एजुकेशन क्वालिफिकेशन की मार्कशीट या सर्टिफिकेट होना चाहिए।
  • विद्या लक्ष्मी एजुकेशन लोन लेने के लिए प्रति वर्ष माता-पिता की आय 4.5 लाख रुपये से अधिक नहीं होनी चाहिए
  • आवेदक एक भारतीय नागरिक होना चाहिए |

विद्या लक्ष्मी लोन योजना से जुडी जरुरी बातें:

ऑनलाइन लोन आवेदन करने का मतलब यह कभी नहीं होता है कि आपको बैंक लोन तुरंत दे देगा। आवेदन करने से पहले कुछ बातों का ध्यान रखें, सबसे पहले लोन की पात्रता जाँच कर लें, ये सारी जानकारी इस पोर्टल पर मौजूद है। हो सकता है कि बैंक आपसे अधिक जानकारी या फिर दस्तावेज माँगे, इसके लिए आपको यह जानकारी बैंक को देनी होगी। इसके बाद बैंक की जाँच को 15-20 दिन में पूरा करने का प्रयास करें, वरना लोन ऐप्लिकेशन को स्वीकारा नहीं जाएगा। आवेदन करते समय अपना मोबाइल नंबर और ई-मेल आईडी सही से भरें, क्योंकि बैंक आपको संपर्क करने की कोशिश कर सकता है। सबसे मुख्य बात – आप एक बार में केवल 3 बैंकों में आवेदन कर सकते हैं। साथ ही हर बैंक की केवल एक ही लोन स्कीम में आवेदन कर सकते हैं।

FAQ:-योजना से जुड़े सवाल-जवाब

QUESTION:-विद्या लक्ष्मी योजना में लोन देने हेतु कितने बैंको को चुना गया है
ANSWER:-सरकार द्वारा इस योजना के तहत 13 बैंकों को चुना गया है जो कि छात्रों को ऋण प्रदान करेंगे।

QUESTION:-विद्या लक्ष्मी योजना में छात्रों को अधिकतम कितने रूपये तक का लोन मिल सकता है
ANSWER:-बैंकों द्वारा छात्रों को लोन अधिकतम लगभग 4 लाख रुपये तक मिल सकता है। यह ऋण लाभार्थियों को बहुत कम ब्याज दर पर प्रदान किया जाएगा।

QUESTION:-विद्या लक्ष्मी योजना में कितने प्रकार के लोन दिये जा सकते है
ANSWER:-इस योजना के अंतर्गत सरकार द्वारा जो बैंक चुने गए हैं उनके द्वारा छात्रों को 126 प्रकार के लोन प्रदान किए जाएंगे।

QUESTION:-एजुकेशन लोन कब चुकाना पड़ता है?
ANSWER:-एजुकेशन लोन का रीपेमेंट: आमतौर पर कोर्स खत्म होने के 6 महीने बाद रीपेमेंट शुरू हो जाता है. लेकिन जॉब नहीं मिलने की स्थिति में बैंक रीपेमेंट के लिए एक साल तक वक्त दे देता है. पांच से सात साल में एजुकेशन लोन चुकाना होता है, कई बार बैंक इसे आगे बढ़ा सकते हैं.

QUESTION:-भारत में एजुकेशन लोन में कौन-कौन से खर्चे शामिल हैं?
ANSWER:-लाइब्रेरी फीस, किताबें, लैपटॉप, परीक्षा शुल्क, पाठ्येतर गतिविधियों के शुल्क और अन्य अध्ययन-संबंधी लागत शिक्षा ऋण में शामिल खर्च हैं। कुछ बैंकों को इन खर्चों को शिक्षा ऋण में शामिल करने की अनुमति केवल तभी होती है जब वे कुल ऋण राशि का 20% से अधिक न हों।

QUESTION:-क्या मैनेजमेंट कोटा के छात्र एजुकेशन लोन के लिए अप्लाई कर सकते हैं?
ANSWER:-प्रबंधन कोटा के माध्यम से प्रवेश पाने वाले छात्रों को शिक्षा ऋण। यह ऋण उन छात्रों को उनके पाठ्यक्रम की फीस का भुगतान करने में मदद करता है जिन्होंने प्रबंधन कोटा के माध्यम से भारत में उच्च अध्ययन के लिए शैक्षणिक संस्थानों में प्रवेश प्राप्त किया है। अधिकतम ऋण राशि जिसके लिए आप आवेदन कर सकते हैं वह रु. 10 लाख.

QUESTION:-विद्या लक्ष्मी पोर्टल के माध्यम से कितने आवेदन किए जा सकते हैं?
ANSWER:-हां, एक छात्र विद्या लक्ष्मी पोर्टल के माध्यम से अधिकतम तीन शिक्षा ऋण के लिए आवेदन कर सकता है। यह सीमा एक ही छात्र से कई ऋण आवेदनों को रोकने के लिए है, जिससे ऋण प्रसंस्करण में भ्रम और देरी हो सकती है।

QUESTION:-एजुकेशन लोन कौन ले सकता है?
ANSWER:-एजुकेशन के लिए लोन लेने वाला छात्र भारत का निवासी होना चाहिए। छात्र को भारत या विदेश में मान्यता प्राप्त शैक्षणिक संस्थान में एडमिशन होना कंफर्म रहना चाहिए। एजुकेशन लोन लेने के लिए छात्र की आयु 18 वर्ष से लेकर 35 वर्ष के बीच में होनी चाहिए। लास्ट एजुकेशन क्वालीफिकेशन की मार्कशीट या सर्टिफिकेट होना चाहिए।

QUESTION:-क्या मैं एजुकेशन लोन के लिए दोबारा अप्लाई कर सकता हूं?
ANSWER:-आप दूसरा शिक्षा ऋण प्राप्त कर सकते हैं, बशर्ते आप दूसरे शिक्षा ऋण की आवश्यकताओं को पूरा करते हों। आप यह ऋण या तो उसी बैंक से लेने का विकल्प चुन सकते हैं जिससे आपने स्नातक स्तर की पढ़ाई के लिए ऋण लिया था या किसी भिन्न ऋणदाता से।

Leave a Comment